एक और नया खुलासा -

कोल ब्लॉकों की 31 ई-नीलामी और 53 आबंटन से देश को 3.94 लाख करोड़ का फायदा, फिर निजीकरण क्यों ?